पत्नी/बीबी (Wife) को खुश कैसे रखें

कोई परिवार तभी खूब रह सकता है जब परिवार की महिलाएं खुश रहे । अगर आप एक नवविवाहित हो या विवाह हुए कुछ समय हो गया हो मगर आपको लगता है कि घर का माहौल सही नहीं है । घर में आए दिन आपका आपकी पत्नी से अनबन होते रहती है । यह परेशानी केवल आपकी ही नहीं बल्कि विश्व के लगभग हर घर की बात है । अगर आपकी पत्नी आपसे नाराज रहती है, झगडे करती है इसका मतलब यह है कि वह खुश नहीं है । ऐसे परिस्थिति में परिवार में सुख समृद्धि की कामना भी नहीं की जा सकती ।



अगर आप चाहते हैं कि आपका परिवार खुश रहे तब आपको आपसी मतभेद और नाराजगी को दूर करने का प्रयास करना चाहिए । वैसे मै अविवाहित हूं मगर इस पोस्ट को लिखने से पहले मैंने इससे संबंधित बहुत रिसर्च की कैसा परिवार खुश रहता है, अपनी पत्नी को खुश कैसे रखें और कुछ आइडिया मैंने अपने आस पास की स्थिति के अनुसार लिखा है ।

देखा जाए तो परिवार खुश तभी रहता है जब सबका संबंध मीठा हो कोई किसी के प्रति मन में द्वेष की भावना नहीं रखता है। एक दूसरे का आदर करते हैं । एक दूसरों कि भावना को समझते हैं और आपसी सहयोग रखते हैं ।

आज का युग बदल गया है आज महिलाएं हर क्षेत्र में पुरुषों से कंधा से कंधा मिला रहे हैं । जब घर वाले किसी लड़की का शादी करा देते हैं तो उनकी बहुत से सपन अपने मन में ही रह जाती हैं और शादी के बाद लगभग हर स्त्री घर के कार्यों में व्यस्त हो जाती हैं । लगभग दिनभर वे कुछ न कुछ कार्य करते रहती हैं यह बाद सबको पता है और लगभग सभी ने अपने - अपने घर में देखा भी होगा। उनके व्यस्तता के बावजूद भी अगर आप या आपके परिवार वाले आपके पत्नी से सही से वर्ताव नहीं करते अथवा सही महत्व नहीं देते ऐसे में अक्सर उनके मन में उदासी आ जाती है और कुछ समय बाद यह उदासी या नाराजगी बढ़ जाती है जिसका परिणाम आप सभी को मालूम है । छोटी छोटी बातों में झगड़े होने लग जाते हैं परिवार में अशांति आ जाती है । यह परिवार के भविष्य के लिए सही नहीं होता इसलिए जितना जल्दी हो सके हालात को सुधारने का प्रयास करें ।

अधिकतर परिवारों में कलह का यही कारण होती है कि स्त्रियों का अपने ससुराल के प्रति जो सपना होता है वो बिल्कुल टूट जाता है । किसी परिवार का खुशी खुशी रहने के पीछे केवल एक व्यक्ति का हाथ नहीं होता है बल्कि सभी का आपसी तालमेल का होना आवश्यक है ।

खैर इन बातों को रहने देते हैं । पोस्ट के मुख्य बिंदु पर आते हैं । अपनी पत्नी (Wife) को खुश रखने के लिए निम्न बातों को उपयोग में का सकते हैं ।

पत्नी/बीबी(wife) को खुश रखने का तरीका


[1] शॉपिंग कराएं
[2] इच्छाओं को जानें और पूरी करने का प्रयास करें
[3] पुरा परिवार इकट्ठा होकर एक दूसरे को समय दें
[4] तारीफ करें
[5] परिवार में समान स्थान प्रदान करें
[6] सहयोग करें
[7]बहस से बचें
[8] मूड को समझें
[9] समय दें
[10] छोटे - मोटे मजाकिया झगड़ा करें


[1] शॉपिंग कराएं

शॉपिंग का नाम सुनते ही महिलाओं का चेहरा खिल उठता है । महीने में 1-2 बार शॉपिंग पर लेकर जरूर जाएं । इससे आपकी जेब थोड़ी हल्की जरूरी होगी मगर क्या करें खुशियों के आगे पैसों की कोई महत्व नहीं होती पर ऐसा भी नहीं है कि आप एक मिडिल क्लास फैमिली से है और अपने पूरे महीने की सैलरी शॉपिंग में ही खर्च कर दो । अरे भाई आपको घर भी चलाना है इसलिए एक बार शॉपिंग से पहले बजट बनाकर शॉपिंग करें वरना इससे आपका टेंशन बढ़ जाएगा । अगर आप अमीर परिवार से हैं तो कोई टेंशन की बात नहीं है । कई परिवार थोड़े मान - मर्यादा, संस्कार पर स्ट्रिक्ट होते हैं अर्थात वैसे घर की । महिलाओं को शॉपिंग वगैरह वगैरह में जाने की इजाजत नहीं होती ऐसे में आपको घर वालों से लड़ाई नहीं करनी बल्कि आप अपनी पत्नी से उसकी इच्छा पूछ सकते हैं और ऑनलाइन ऑर्डर अथवा ऑफलाइन समान लाकर दे सकते हैं । अगर थोड़ा फिल्मी होना है तो कुछ बहाना बनाकर उसे चोरी छुपे शॉपिंग पर लेकर जा सकते हो इससे आपके रिश्ते में प्रेम बढ़ेगा ।

[2] इच्छाओं को जानें और पूरी करने का प्रयास करें

इस दुनिया में जितने भी व्यक्ति हैं लगभग सबकी अपनी कुछ इच्छाएं होती है । इच्छाएं दो तरह की होती है एक छोटी मोटी प्रकार की जिसमें पेंटिंग, सोशल मीडिया फैन फॉलोइंग,सिंगिंग,कुकिंग आदि आते हैं, और दूसरा प्रकार में उसके प्रति जुनून होता है जैसे कि कई लोग IAS बनना चाहते हैं वे 3-4 साल कठोर मेहनत करते हैं उनको इसके अलावा कुछ नहीं दिखता, इसके अलावा बहुत से चीजें होती है जिसके लिए लोग सबकुछ भूल सकते हैं ।

यहां दूसरी प्रकार वाली इच्छा सब कोई पूरी नहीं कर सकते अगर संभव है तो कोशिश कीजिए वरना उसके छोटे - छोटे इच्छाओं को पूरी करने की जरूरत कोशिश करें । इसके लिए आपको उससे उनकी इच्छाओं को जानना होगा । कुछ लोगों की इच्छाएं देखने से ही पता चल जाता है या फिर आप उनसे जब वो अकेली हो तो पूछ भी सकते हो ।


[3] पुरा परिवार इकट्ठा होकर एक दूसरे को समय दें

आज के इस व्यस्त दुनिया में लोग इतने व्यस्त हो जाते हैं कि एक दूसरे को थोड़ा भी समय नहीं दे पाते । केवल काम करने से ही घर में खुशियां नहीं आती आपको अपने घरवालों को समय देने का प्रयास करना चाहिए । आपको जब भी समय मिले सब साथ में मिलकर कोई फिल्म देख सकते हो, कहीं पिकनिक पर का सकते हो या फिर कहीं पार्क या चिड़ियाघर घूमने के लिए जा सकते हो । ऐसा पल सभी के लिए यादगार रहता है इसलिए जब भी ऐसा मौका मिले ऐसा मौका मत छोड़ना । इससे आपसी स्नेह बढ़ती है ।

[4] तारीफ करें

तारीफ वो चीज होती है जिसकी आप कर रहे हो उसके चेहरे में मुस्कान ले आती है । इसलिए जब भी मौका मिले तारीफ करने का मौका मत छोड़ें भले ही वो सुंदर दिख रही हो, ड्रेस खूबसूरत हो, खाना अच्छा बना हो या फिर आपकी पत्नी ने कोई अच्छा काम किया होगा। इससे आपका आपसी प्रेम बढ़ेगा । आपकी पत्नी आपसे कभी नाराज नहीं होगी , छोटी - छोटी नाराजगी तो इसी लिए होती है ताकि आप उन्हें मनाओ यही तो प्रेम है ।

[5] परिवार में समान स्थान प्रदान करें

ऐसा खास करके पुराना विचारधारा वाले परिवारों में होता है मगर आजकल टीवी देख देख के नया तौर तरीका अपना रहे हैं । अगर आपका परिवार पुराना विचारधारा वाला है तब तो आपके ऊपर भी कुछ पाबंदियां होंगी । ऐसे परिवार में पाबंदियां तो होती है मगर सबको समान रूप से परिवार में स्थान मिलना चाहिए । अगर आपके पत्नी के साथ दुर्व्यवहार किया जाता है तो इसे प्रेमपुर्वक ठीक करने का प्रयास करें , घर वालो शांत शब्दों में समझाएं ।


[6] सहयोग करें

कभी भी अगर पत्नी को खुश रखने की बात आती है तो आपको यह सलाह सब कोई देगा की उसका सहयोग करें । अगर आप दोनों अलग कहीं बाहर रहते हैं तब आप विभिन्न कार्यों में अपनी पत्नी का सहयोग कर सकते हैं । यहां ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि आपकी पत्नी बैठी रहे और आप सारा काम करो 🤣। अगर वो कोई काम कर रही हो तो थोड़ा मदद कर सकते हो अपने काम खुद कर सकते हो जैसे पानी, चाय चाहिए तो खुद से के आएं या बना लें । ऐसे बहुत से काम होते हैं जिसमें आप अपनी पत्नी के काम में सहयोग कर सकते हैं । संयुक्त परिवार में घर की 2-3 महिलाएं साथ में विभिन्न कार्य करती हैं ऐसे में सहयोग करने न चल दे वरना वो लोग वहीं आपकी खिल्ली उड़ा देंगे 😉 । मगर आप भी यह कह कहकर उन्हें चुप करा सकते हैं कि "मेरा प्यार देखकर जलन हो रही है क्या" । 


[7]बहस से बचें

घर में अशांति का मुख्य कारण होता है बहस क्योंकि छोटी छोटी बहस ही बाद में झगड़े का रूप ले लेती है । इसलिए जितना हो सके बहस करने से बचें अगर बात बहुत छोटी है तो सामने वाले की ही बात सुन लें कभी न कभी सामने वाले को आपकी गलती का अहसास हो ही जायेगा । अधिकतर परिवार में देखा गया है कि पत्नियां अपने पतियों से बेवजह ही बहस करती हैं डांटती है ऐसा लगभग अधिकतर परिवार में होता है जहां तब मेरा मानना है इसका मुख्य कारण थकावट होती है या फिर आपने कुछ गलती की होगी । पर जब बात बेवजह झगड़े करने की आती है तो जहां तक मैंने अनुभव किया है कि जब मलिलाएं दिनभर काम करते करते हल्का सा फिजिकली और मेंटली थकावट महसूस करती है और जब आप उन्हें कुछ करने को कहते हैं या वो आपको कुछ कहती हैं तो आप उसे टाल देते हैं ऐसे स्थिति में ही वे आपसे बहस या झगड़ा करती हैं । मेरे इस विचार का प्रमाण में आपसे ही देना चाहूंगा जब आप आप काम करके आते हैं और थके रहते हैं तो जब आपको कोई कुछ काम करने को कहते हैं तो सुरुवाती के 1-2 या तो आप मना कर देते हो हा जैसे तैसे कर लेते हो मगर कुछ समय पशचात् आप सामने वाले को डांटने लग जाते हो "की मै थक गया हूं तुम्हे दिखता नहीं वगैरह वगैरह " इसी तरह मेरे विचार के मुताबिक थकावट ही इसका कारण हो सकता है । ऐसे स्थिति को समझते हुए सामने वाले की नाराजगी को सुनना ही बेहतर होता है अगर आप कुछ बोलें तो यह बड़ा झगड़ा का रूप हो सकता है । कहते हैं न प्यार में अगर गलती न भी हो तो सामने वाले की खुशी के लिए गलती मान लेनी चाहिए ।

[8] मूड को समझें

इसके मतलब गलत न समझें मूड को समझें का मतलब वासना से संबंधित नहीं है । यहां कहने का तात्पर्य यह है कि आपको यह देखना है की सामने वाला कैसा महसूस कर रहा है । जैसा कि आपको पता है मूड्स कई प्रकार के होते हैं जैसे - खुश, दुखी, नाराज, मजाकिया, गुस्सा आदि । आपको अपने पत्नी के मूड के अनुसार चलना है अगर आपकी पत्नी मजाकिया मूड में है तो आप खङूसो जैसी हरकत न करके आप भी मजाक मूड में आ जाओ । इसी तरह अगर सामने वाला नाराज है तो उसे मनाने की कोशिश करो इसी तरह आपको परिस्थिति के अनुरूप कदम उठाना है ।

[9] समय दें

ऊपर बताए सारे काम करने के बावजूद भी अगर आप अपनी पत्नी को पर्याप्त समय नहीं दे रहे तो ऐसे में आपके पत्नी के मन में गलत विचार आ सकते हैं । इसलिए जब भी आप फ्री हो अपने पत्नी को समय जरूर दें हो सके तो कभी कभार फिल्म देखने भी जरूर जाएं या फिर कहीं गार्डन वगैरह वगैरह जाएं , इससे आपके बीच प्रेम बढ़ेगा ।


[10] छोटे - मोटे मजाकिया झगड़ा करें


हमेशा प्यार करना ही सही नहीं होता है । इसलिए कभी कभार मजाकिया झगड़े कर सकते हो इसका मतलब ये नहीं है कि आप उसके मारो पीटो या बहुत ज्यादा सुना दो । खैर आप इतने मैच्योर तो जरूर होंगे कि समझ जाएं की मजाकिया झगड़ा कैसा होता है बाद में उसे जरूर बता दें कि मजाक कर रहे हो वरना आपसे लाले पड़ जाएंगे । कहते हैं न ज्यादा प्यार भी रिश्ते के लिए सही नहीं होता इसलिए रिश्ता चटपट होना चाहिए हमेशा मिठास रहने से रिश्ते में दरार आ सकती है । छोटे - मोटे मजाकिया झगड़े आप दोनों को और करीब लाएगा ।


निष्कर्ष - पत्नी/बीबी(wife) को खुश रखना उतना आसान बात नहीं है पर कुछ लोग बड़ी आसानी से कर लेते हैं क्योंकि उनमें आपसी प्रेम और सहयोग की भावना रहती है, जहां न केवल आप अपनी पत्नी को खुश रखने का प्रयास करते हैं बल्कि आपकी पत्नी भी आपको खुश रखने का प्रयास करती है । यहां कुछ तरीके बताए गए हैं जिससे आप अपनी पत्नी को खुश रख सकते हैं । अगर आप सुरूवाती में आपकी पत्नी आप पर शक करे की अचानक ये बदलाव कैसे आ गया तो आप इस पोस्ट को खोलकर टाइटल उसे दिखा दें वो जरूर खुश हो जाएगी । आपको हालात को समझते हुए इन टिप्स को फॉलो करना है जो आपको समझ आ जायेगा कि कब क्या करना है ।

उम्मीद है यह पोस्ट आपको पसंद आया होगी अगर इस पोस्ट से संबंधित कोई भी सवाल या सलाह है या आप अपना अनुभव शेयर करना चाहते हैं तो नीचे कमेंट जरुर करें ।

Post a Comment

0 Comments